लॉर्ड लैन्सडौन, 1888-93 (Lord Lansdowne, 1888-93) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड लैन्सडौन, 1888-93 (Lord Lansdowne, 1888-93) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड लैन्सडौन, 1888-93 (Lord Lansdowne)

  • लॉर्ड लैन्सडौन के शासनकाल में 1892 में प्रसिद्ध कौसिल अधिनियम स्वीकार हुआ.
  • इसके अधीन लेजिस्लेटिव कौंसिलों के कार्य और अधिकार बढ़ाये गए और इम्पीरियल लेजिस्लेटिव कौंसिल तथा प्रान्तीय लेजिस्लेटिव कौंसिलो के सदस्यों की संख्या बढ़ा दी गयी.
  • इस एक्ट के द्वारा चैम्बर्स ऑफ कामर्स, विश्वविद्यालयों, जमीदारों और म्यूनिस्पेलिटीज को अपने प्रतिनिधि चुनने का हक दिया गया.
  • 1881 के कारखाना अधिनियाम पर अनेक सुधार संशोधन किए गए.
  • इसके तहत स्त्रियों के लिए काम के घंटे दिन में 11 सीमित कर दिये गये.
  • काम करने वाले बच्चों की कम से कम आयु 7 वर्ष से 9 वर्ष कर दी गई, तथा उनके कार्य के घण्टे 7 निश्चित कर दिये गये.
  • बच्चों के लिए रात्रि में कार्य करना पूर्ण रूप से प्रतिबन्धित कर दिया गया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top