Wednesday , October 23 2019
Home / भारतीय इतिहास / मुस्लिम लीग और पाकिस्तान की मांग (Muslim League and the Demand of Pakistan)

मुस्लिम लीग और पाकिस्तान की मांग (Muslim League and the Demand of Pakistan)

मुस्लिम लीग और पाकिस्तान की मांग (Muslim League and the Demand of Pakistan) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

मुस्लिम लीग और पाकिस्तान की मांग (Muslim League and the Demand of Pakistan) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

  • मुस्लिम लीग की स्थापना लार्ड मिन्टों के समय सन् 1906 में हो चुकी थी.
  • इसे विधान मण्डलों में अपनी संख्या से कहीं अधिकं स्थान मिल चुका था.
  • 1937 तक राजनीतिक दृष्टि से मुस्लिम लीग का कोई स्थान नहीं था.
  • अत: नये अधिनियम के अनुसार जो इस वर्ष चुनाव हुए थे उसमें कांग्रेस ने लीग के अभ्यर्थियों का समर्थन किया.
  • चुनाव में लीग को आशा के अनुरूप सफलता नहीं मिल सकी.
  • इसलिए जिन्ना जो कि लीग के उस समय प्रधान नेता थे कांग्रेस के विरोधी हो गये और उसे हिन्दू संस्था के नाम से पुकारने लगे.
  • 1939 में लीग ने एक वर्किंग कमेटी का गठन इसलिए किया ताकि जो वैधानिक सुधार सामने आये हैं उनकी परीक्षा करे.
  • परन्तु इसका परिणाम 1940 में पाकिस्तान की मांग के रूप में सामने आया.
  • जिन्ना के नेतृत्व में ‘पाकिस्तान की मांग’ उत्तरोत्तर बहुत तेजी से होने लगी.
  • 12 मई, 1946 ई. को मुस्लिम लीग ने कैबिनेट मिशन को जो ज्ञापन दिया था उसमें उसने 6 प्रांतों (सीमा प्रान्त, पंजाब, सिंध, बलूचिस्तान, बंगाल तथा आसाम) की मांग की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *