लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow)

  • लॉर्ड लिनलिथगो गवर्नर जनरल बनने से पूर्व भारतीय कृषि के राजकीय आयोग तथा भारतीय वैधानिक सुधारों की संयुक्त प्रवर समिति का प्रधान था.
  • 1935 के भारत सरकार अधिनियम की रूपरेखा तैयार करने में इसका भी सहयोग था.
  • इस अधिनियम के केवल प्रान्तीय भाग को ही लागू किया गया.
  • इसके तहत 1937 में प्रान्तों की एसेम्बलियों के लिए चुनाव हुए.
  • कांग्रेस को इस चुनाव में भारी सफलता प्राप्त हुई.
  • सितम्बर, 1939 में द्वितीय महायुद्ध प्रारम्भ हो गया.
  • सरकार ने सेन्ट्रल लेजिस्लेटिव कौंसिल की राय के बिना भारत को ब्रिटेन के सहयोगी के रूप में युद्ध में शामिल घोषित कर दिया.
  • विरोधस्वरूप अक्टूबर-नवम्बर 1939 में कांग्रेस की प्रान्तीय सरकारों ने त्यागपत्र दे दिया.
  • 1940 में मुस्लिम लीग ने अपने लाहौर अधिवेशन में पाकिस्तान की मांग पेश की.
  • इसी बीच सुभाषचन्द्र बोस ने गांधीजी के साथ मतभेदों के कारण कांग्रेस छोड़ दी और फारवर्ड ब्लाक की स्थापना की.
  • देश में सत्याग्रह जोरों से चल रहा था.
  • ब्रिटिश सरकार ने भारतीय नेताओं से बातचीत व समस्या के समाधान के लिए 1942 में क्रिप्स मिशन भारत भेजा, परन्तु कांग्रेस के साथ इसका कोई समझौता न हो पाने के कारण यह असफल रहा.
  • अगस्त, 1942 में कांग्रेस ने भारत छोड़ो आंदोलन का प्रस्ताव स्वीकार किया.
  • परिणामस्वरूप नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *