आधुनिक भारत

आधुनिक भारत का इतिहास (HISTORY OF MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA)

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) आधुनिक भारत दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) 19वीं शताब्दी के सामाजिक और धार्मिक सुधार आन्दोलनों के प्रवर्तक उच्च वर्गीय हिन्दू थे. इन्होंने अस्पृश्यता और जात-पांत की समाप्ति के लिए अनेक प्रयास किए. किन्तु इन्हें अपने प्रयासों में …

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) Read More »

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) ब्रिटिश शासन ने भारतीय समाज को बहुत गहन रूप से प्रभावित किया. अंग्रेजों से पूर्व भी अनेक विदेशी आक्रान्ता भारत में आए किन्तु वे भारतीय समाज और संस्कृति में घुलमिल गए. उन्होंने भारतीय …

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) Read More »

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) भारत में समाचार-पत्रों का इतिहास यूरोपीय लोगों के आगमन के साथ-साथ आरम्भ होता है. सर्वप्रथम पुर्तगालियों ने भारत में मुद्रणालय (Printing Press) की स्थापना की. भारत में सर्वप्रथम 1557 में गोआ के पादरियों …

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत Read More »

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT)

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) 18वीं शताब्दी में देश में उत्पन्न राजनीतिक उथल-पुथल के कारण हिन्दू और मुस्लिम शिक्षा केन्द्र लुप्तप्राय हो गए. शिक्षक और विद्यार्थी दोनों ही अपने कर्तव्यों को भूलकर राष्ट्रीय संघर्ष में लग गए. 1765 में कम्पनी …

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) Read More »

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES)

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) भारतीय रियासतों और ईस्ट इंडिया कम्पनी के मध्य संबंधों के कई चरण देखने को मिलते हैं. इन भारतीय रियासतों की संख्या 562 थी और इनके अधीन लगभग 7,12,508 वर्ग मील का …

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) Read More »

उत्तरी-पश्चिमी सीमा (THE NORTH-WEST FRONTIER) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

उत्तरी-पश्चिमी सीमा (THE NORTH-WEST FRONTIER) आधुनिक भारत

उत्तरी-पश्चिमी सीमा (THE NORTH-WEST FRONTIER) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) उत्तरी-पश्चिमी सीमा (THE NORTH-WEST FRONTIER) अफगानिस्तान और सिंध नदी का बंजर प्रदेश भारत की उत्तरी-पश्चिमी सीमा थी. यह सीमा उत्तर में पामीर के पठार से अरब सागर के तट तक फैली थी. इसकी चौड़ाई भिन्न-भिन्न स्थानों पर भिन्न-भिन्न थी. यह प्रदेश 1200 मील लंबा था. यह …

उत्तरी-पश्चिमी सीमा (THE NORTH-WEST FRONTIER) आधुनिक भारत Read More »

आंग्ल-अफगान संबंध (ANGLO-AFGHAN RELATIONS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

आंग्ल-अफगान संबंध (ANGLO-AFGHAN RELATIONS) आधुनिक भारत

आंग्ल-अफगान संबंध (ANGLO-AFGHAN RELATIONS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) आंग्ल-अफगान संबंध (ANGLO-AFGHAN RELATIONS) ब्रिटिश साम्राज्य की सुरक्षा तथा पश्चिमोत्तर की ओर एक वैज्ञानिक सीमा की समस्या ने अंग्रेजों को अफगानों से सम्बन्ध स्थापित करने या युद्ध करने पर बाध्य किया . आंग्ल-अफगान संबंधों का पहला दौर 1836 में ऑकलैण्ड को भारत का गवर्नर जनरल बनाया गया. …

आंग्ल-अफगान संबंध (ANGLO-AFGHAN RELATIONS) आधुनिक भारत Read More »

लॉर्ड माउंटबेटन, मार्च 1947-जून 1948 (Lord Mountbatten March 1947-June 1948) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड माउंटबेटन, मार्च 1947-जून 1948 (Lord Mountbatten) आधुनिक भारत

लॉर्ड माउंटबेटन, मार्च 1947-जून 1948 (Lord Mountbatten March 1947-June 1948) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) लॉर्ड माउंटबेटन, (Lord Mountbatten) इस समय देश में दंगे हो रहे थे तथा विभाजन की मांग बढ़ रही थी. लॉर्ड माउंटबेटन ने 3 जून, 1947 को घोषणा की कि भारत की समस्या का एकमात्र हल भारत का विभाजन है और यह …

लॉर्ड माउंटबेटन, मार्च 1947-जून 1948 (Lord Mountbatten) आधुनिक भारत Read More »

लॉर्ड वेवल, 1944-1947 (Lord Wavel , 1944-1947) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड वेवल, 1944-1947 (Lord Wavel , 1944-1947) आधुनिक भारत

लॉर्ड वेवल, 1944-1947 (Lord Wavel , 1944-1947) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) लॉर्ड वेवल, 1944-1947 (Lord Wavel) 1945 में द्वितीय विश्वयुद्ध की समाप्ति हो गई. लॉर्ड वेवल ने जून, 1945 में भारत के मुख्य राजनैतिक दलों के साथ समझौते हेतु शिमला सम्मेलन बुलाया, परन्तु मुस्लिम लीग की मनोवृत्ति के कारण यह असफल रहा. 1945 में इंग्लैंड …

लॉर्ड वेवल, 1944-1947 (Lord Wavel , 1944-1947) आधुनिक भारत Read More »

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow) लॉर्ड लिनलिथगो गवर्नर जनरल बनने से पूर्व भारतीय कृषि के राजकीय आयोग तथा भारतीय वैधानिक सुधारों की संयुक्त प्रवर समिति का प्रधान था. 1935 के भारत सरकार अधिनियम की रूपरेखा तैयार करने में इसका भी सहयोग था. इस अधिनियम के …

लॉर्ड लिनलिथगो, 1936-1944 (Lord Linlithgow, 1936-1944) आधुनिक भारत Read More »