भारतीय इतिहास

सविनय अवज्ञा आंदोलन और साम्प्रदायिक निर्णय (Civil Disobedience Movement and Communal Award) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

सविनय अवज्ञा आंदोलन और साम्प्रदायिक निर्णय (Civil Disobedience Movement and Communal Award)

सविनय अवज्ञा आंदोलन और साम्प्रदायिक निर्णय (Civil Disobedience Movement and Communal Award) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement) सविनय अवज्ञा आंदोलन और साम्प्रदायिक निर्णय (Civil Disobedience Movement and Communal Award) ग्यारह सूत्रीय प्रस्ताव (Eleven points proposal) महात्मा गांधीजी ने वायसराय के सामने एक प्रस्ताव रखा कि यदि वह उनकी ‘ग्यारह सूत्रीय’ (Eleven Points) मांग को …

सविनय अवज्ञा आंदोलन और साम्प्रदायिक निर्णय (Civil Disobedience Movement and Communal Award) Read More »

कांग्रेस का लाहौर अधिवेशन : पूर्ण स्वराज्य (Lahore Congress Session: Poorna Swaraj) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

कांग्रेस का लाहौर अधिवेशन : पूर्ण स्वराज्य (Lahore Congress Session: Poorna Swaraj)

कांग्रेस का लाहौर अधिवेशन : पूर्ण स्वराज्य (Lahore Congress Session: Poorna Swaraj) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement) कांग्रेस का लाहौर अधिवेशन : पूर्ण स्वराज्य (Lahore Congress Session: Poorna Swaraj) इस समय तक महात्मा गांधीजी पुनः सक्रिय राजनीति में वापस लौट आए थे तथा दिसम्बर, 1928 में कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में शामिल हुए. कांग्रेस का …

कांग्रेस का लाहौर अधिवेशन : पूर्ण स्वराज्य (Lahore Congress Session: Poorna Swaraj) Read More »

नेहरु रिपोर्ट (Nehru Report) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

नेहरु रिपोर्ट (Nehru Report) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

नेहरु रिपोर्ट (Nehru Report in hindi) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement) ब्रिटिश कैबिनेट के अनुदार दल के भारत मंत्री लार्ड बर्केनहेड ने 24 नवम्बर, 1027 में भारतीयों के सामने यह चुनौती रखी कि वे एक ऐसे संविधान का निर्माण कर ब्रिटिश संसद के समक्ष पेश करें जिससे सारे भारतीय संतुष्ट हों. उनका मानना था …

नेहरु रिपोर्ट (Nehru Report) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement) Read More »

साइमन कमीशन (Simon Commission) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement)

साइमन कमीशन (Simon Commission) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन

साइमन कमीशन (Simon Commission) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (Indian National Movement) साइमन कमीशन (Simon Commission in Hindi) साइमन कमीशन का गठन और उद्देश्य साइमन कमीशन के गठन के बाद आंदोलन के इस नए चरण को बल मिला. 1919 के भारतीय शासन अधिनियम की अन्तिम धारा में कहा गया था कि भारत में संवैधानिक सुधारों की छानबीन …

साइमन कमीशन (Simon Commission) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन Read More »

क्रान्तिकारी-आतंकवाद का दूसरा चरण (Second Phase of Revolutionary Terrorism) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन Indian National Movement

क्रान्तिकारी-आतंकवाद का दूसरा चरण (Second Phase of Revolutionary Terrorism) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन

क्रान्तिकारी-आतंकवाद का दूसरा चरण (Second Phase of Revolutionary Terrorism) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन Indian National Movement क्रान्तिकारी-आतंकवाद का दूसरा चरण (Second Phase of Revolutionary) असहयोग आंदोलन के पूर्णतया असफल होने से आतंकवाद में पुनः उग्रता आई. अक्टूबर, 1924 में समस्त क्रान्तिकारी दलों का कानपुर में एक सम्मेलन बुलाया गया, जिसमें सचिन्द्रनाथ सान्याल, जगदीश चन्द्र चैटर्जी तथा …

क्रान्तिकारी-आतंकवाद का दूसरा चरण (Second Phase of Revolutionary Terrorism) भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन Read More »

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA)

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) आधुनिक भारत दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) 19वीं शताब्दी के सामाजिक और धार्मिक सुधार आन्दोलनों के प्रवर्तक उच्च वर्गीय हिन्दू थे. इन्होंने अस्पृश्यता और जात-पांत की समाप्ति के लिए अनेक प्रयास किए. किन्तु इन्हें अपने प्रयासों में …

आधुनिक भारत में दलित जातीय आन्दोलन (DEPRESSED CLASS MOVEMENT IN INDIA) Read More »

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA)

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) ब्रिटिश शासन ने भारतीय समाज को बहुत गहन रूप से प्रभावित किया. अंग्रेजों से पूर्व भी अनेक विदेशी आक्रान्ता भारत में आए किन्तु वे भारतीय समाज और संस्कृति में घुलमिल गए. उन्होंने भारतीय …

आधुनिक भारत में पुनर्जागरण (THE RENAISSANCE IN MODERN INDIA) Read More »

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) भारत में समाचार-पत्रों का इतिहास यूरोपीय लोगों के आगमन के साथ-साथ आरम्भ होता है. सर्वप्रथम पुर्तगालियों ने भारत में मुद्रणालय (Printing Press) की स्थापना की. भारत में सर्वप्रथम 1557 में गोआ के पादरियों …

भारतीय प्रेस का इतिहास (THE HISTORY OF INDIAN PRESS) आधुनिक भारत Read More »

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT)

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) 18वीं शताब्दी में देश में उत्पन्न राजनीतिक उथल-पुथल के कारण हिन्दू और मुस्लिम शिक्षा केन्द्र लुप्तप्राय हो गए. शिक्षक और विद्यार्थी दोनों ही अपने कर्तव्यों को भूलकर राष्ट्रीय संघर्ष में लग गए. 1765 में कम्पनी …

भारतीय शिक्षा:उदय और विकास (INDIAN EDUCATION:RISE AND DEVELOPMENT) Read More »

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) आधुनिक भारत (MODERN INDIA)

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES)

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) आधुनिक भारत (MODERN INDIA) कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) भारतीय रियासतों और ईस्ट इंडिया कम्पनी के मध्य संबंधों के कई चरण देखने को मिलते हैं. इन भारतीय रियासतों की संख्या 562 थी और इनके अधीन लगभग 7,12,508 वर्ग मील का …

कम्पनी और भारतीय रियासतें (THE COMPANY AND THE INDIAN STATES) Read More »