भूगोल

पृथ्वी का भूगर्भिक इतिहास (Geological History of the Earth)

पृथ्वी का भूगर्भिक इतिहास (Geological History of the Earth in Hindi)

पृथ्वी का भूगर्भिक इतिहास (Geological History of the Earth)– पृथ्वी का सम्पूर्ण इतिहास  पृथ्वी की आयु निर्धारण के बाद समस्या उठती है कि उत्पत्ति-काल से कर वर्तमान काल तक पृथ्वी किन-किन दशाओं से होकर गुजरी है. यदि पृथ्वी की विभिन्न परतों, उनमें पायी जाने वाली चट्टानों, जीव-विकास आदि का अध्ययन किया जाए तो यह निष्कर्ष …

पृथ्वी का भूगर्भिक इतिहास (Geological History of the Earth in Hindi) Read More »

ग्रहण क्या होता है ? ( What is Eclipse)

ग्रहण क्या होता है ? चन्द्र ग्रहण,सूर्य ग्रहण( What is Eclipse in Hindi)

ग्रहण क्या होता है ?चन्द्र ग्रहण,सूर्य ग्रहण ( What is Eclipse) –पृथ्वी, चन्द्रमा और सूर्य की गतियों के कारण जब सूर्य और चन्द्रमा के प्रकाशमय भाग का कुछ अंश थोड़ा समय के लिए अन्धकारमय हो जाता है. तो उसे ग्रहण कहते हैं.   चन्द्र ग्रहण (Lunar Eclipse) जब पृथ्वी और चन्द्रमा की सूर्य के चारों …

ग्रहण क्या होता है ? चन्द्र ग्रहण,सूर्य ग्रहण( What is Eclipse in Hindi) Read More »

पृथ्वी के सौर्यिक सम्बन्ध (Planetary Relations of the Earth)

पृथ्वी के सौर्यिक सम्बन्ध (Planetary Relations of the Earth in Hindi)

पृथ्वी के सौर्यिक सम्बन्ध (Planetary Relations of the Earth)–पृथ्वी सौरमण्डल के ग्रहों में से एक प्रमुख और अनोखा ग्रह है क्योंकि केवल इसी पर विविध प्रकार के पेड़-पौधों और जीव-जन्तुओं के विकास और जीवन के लिए उपयुक्त परिस्थितियां पाई जाती हैं.     सौरमण्डल के सारे ग्रह अपनी धुरी पर अपने चारों ओर सूर्य का …

पृथ्वी के सौर्यिक सम्बन्ध (Planetary Relations of the Earth in Hindi) Read More »

पृथ्वी की उत्पत्ति और विकास (Origin and Evolution of Earth)

पृथ्वी की आयु | भूगोल (Age of Earth in Hindi | Geography )

पृथ्वी की आयु (Age of Earth)–   पृथ्वी के निर्माणकाल का विषय भी इसकी उत्पत्ति की तरह रहस्यपूर्ण है. विभिन्न विद्वानों ने अपने प्रयोगों तथा तर्कों के आधार पर पृथ्वी की आयु की वास्तविक गणना करने का प्रयास किया है. लेकिन इनके परिणाम एक न होकर भिन्न-भिन्न हैं. आज के वैज्ञानिक और तकनीकी आ की …

पृथ्वी की आयु | भूगोल (Age of Earth in Hindi | Geography ) Read More »

पृथ्वी का विकास (Evolution of Earth)

पृथ्वी का विकास,धरातल के प्रमुख लक्षण (Evolution of Earth in Hindi)

पृथ्वी का विकास (Evolution of Earth)–   अनेक अवस्थाओं से गुजरकर पृथ्वी ने वर्तमान रूप धारण किया है. भंवर गति से घूमते हुए धूल और गैस के गोले से पृथ्वी द्रव अवस्था में पहुंच गई. हल्के पदार्थ नीचे गहराई से निकलकर इसकी आग्नेय सतह पर उतरने लगे. फिर वे ठंडे होकर कठोर बन गए. इस …

पृथ्वी का विकास,धरातल के प्रमुख लक्षण (Evolution of Earth in Hindi) Read More »

भूगोल में विशिष्टिकरण (Specialization in Geography)

भूगोल में विशिष्टिकरण भौतिक भूगोल तथा मानव भूगोल (Specialization in Geography)

भूगोल में विशिष्टिकरण (Specialization in Geography)–भूगोल की दो स्पष्ट शाखाएं हैं-भौतिक भूगोल तथा मानव भूगोल. उत्पत्ति के आधार पर किसी क्षेत्र के भौगोलिक तत्वों को दो वर्गों में विभाजित किया जा सकता है, पहला प्राकृतिक या भौतिक तथा दूसरा मानवीय जो वस्तुतः मानव निर्मित या मानव द्वारा प्रभावित होता है. प्राकृतिक लक्षण वे हैं जो …

भूगोल में विशिष्टिकरण भौतिक भूगोल तथा मानव भूगोल (Specialization in Geography) Read More »

भूगोल का परिचय (Introduction to Geography)

भूगोल का परिचय (Introduction to Geography in Hindi)

भूगोल का परिचय (Introduction to Geography)–भूगोल एक प्रगतिशील विज्ञान है जिसका अध्ययन पृथ्वी की उत्पत्ति के साथ ही प्रारम्भ हो गया था. लेकिन इसकी परिभाषाओं में फेर-बदल होते रहे हैं. भूगोल का परिचय विद्वानो के अनुसार (Introduction to Geography) प्रारम्भ में भूगोल का शाब्दिक अर्थ “गोल पृथ्वी” माना जाता था. अंग्रेजी शब्द Geography दो यूनानी शब्दों (Geog+Graphy) …

भूगोल का परिचय (Introduction to Geography in Hindi) Read More »

Scroll to Top