सल्तनत काल

सल्तनत काल Sultanate era
मध्यकालीन भारत (MEDIEVAL INDIA)
भाग एक–सल्तनत काल

सल्तनत काल- सैनिक प्रशासन (Sultanate Era - Military Administration)

सल्तनत काल सैनिक प्रशासन (Sultanate Era Military Administration)

सल्तनत काल सैनिक प्रशासन (Sultanate Era Military Administration)-दिल्ली सल्तनत की शासन व्यवस्था मुख्यतः सैनिक शक्ति पर आधारित थी.      सुल्तान की सेना में मुख्यतः चार प्रकार के सैनिक थे- सुल्तान द्वारा रखे गए स्थायी सैनिक. सरदारों तथा प्रान्ताध्यक्षों द्वारा रखे गए स्थायी सैनिक. युद्ध के समय भर्ती किए गए (अस्थायी) सैनिक. जिहाद (धर्म युद्ध) …

सल्तनत काल सैनिक प्रशासन (Sultanate Era Military Administration) Read More »

सल्तनत काल- केन्द्रीय प्रशासन (Sultanate - Central Administration)

सल्तनत काल केन्द्रीय प्रशासन (Sultanate – Central Administration)

सल्तनत काल केन्द्रीय प्रशासन (Sultanate-Central Administration)-प्रशासन के सुचारु संचालन हेतु सुल्तान मन्त्रियों की नियुक्ति करके उन्हें विभिन्न विभाग सौंपता था. इस काल में मन्त्रिपरिषद् को ‘मजलिस-ए-खलवत कहा जाता था.   दास वंश के काल में मन्त्रियों की संख्या चार थी, किन्तु कालान्तर में यह संख्या बढ़ कर 6 हो गई थी. वजीर आरिज-ए-मुमालिक दीवान-ए-रसालत दीवान-ए-इंशा …

सल्तनत काल केन्द्रीय प्रशासन (Sultanate – Central Administration) Read More »

सल्तनत कालीन प्रशासन, आर्थिक और सांस्कृतिक विकास तथा सामाजिक और धार्मिक अवस्था (The Sultanate-Administration, Economic and Cultural Development and Social and Religious Conditions)

सल्तनत कालीन प्रशासन, आर्थिक और सांस्कृतिक विकास तथा सामाजिक और धार्मिक अवस्था

सल्तनत कालीन प्रशासन, आर्थिक और सांस्कृतिक विकास तथा सामाजिक और धार्मिक अवस्था-सल्तनत काल में सुल्तानों ने भारतीय शासन व्यवस्था के स्थान पर अरबी-फारसी पद्धति पर आधारित शासन व्यवस्था प्रचलित की.     ‘खलीफा इस्लामिक संसार का, पैगम्बर के बाद का सर्वोच्च नेता होता था. किन्तु वह सुल्तानों का नाम मात्र का ही मुखिया होता था. …

सल्तनत कालीन प्रशासन, आर्थिक और सांस्कृतिक विकास तथा सामाजिक और धार्मिक अवस्था Read More »

दिल्ली-सल्तनत-पर-राज-करने-वाले-राजवंश-Dynasty-ruling-over-Delhi-Sultanate01

दिल्ली सल्तनत पर राज करने वाले राजवंश (Dynasty ruling over Delhi Sultanate)

  गुलाम वंश | दास वंश | ममलुक वंश (1206-1290 ई.) Mamluk Dynasty (दिल्ली सल्तनत )   वंश   शासक शासन काल 1 कुतबी राजवंश  कुतुबुद्दीन ऐबक 1206-10 ई. आराम शाह 1210-11 ई. 2 शम्शी राजवंश इल्तुतमिश 1211-36 ई. रुक्नुद्दीन फिरोज 1236 ई. रजिया सुल्तान 1236-40 ई. मुइजुद्दीन बहराम शाह 1240-42 ई. अलाउद्दीन मसूद शाह 1242-46 …

दिल्ली सल्तनत पर राज करने वाले राजवंश (Dynasty ruling over Delhi Sultanate) Read More »

लोदी वंश का पूरा इतिहास(1451-1526 ई.) Lodi Dynasty in Hindi

लोदी वंश का इतिहास बहलोल लोदी से इब्राहिम लोदी(1451-1526 ई.) Lodi Dynasty in Hindi

बहलोल लोदी (1451-89 ई.) Bahlul Khan Lodi   लोदी वंश का इतिहास (Lodi Dynasty in Hindi)- बहलोल लोदी दिल्ली में प्रथम अफगान शासक था. तैमूर के आक्रमण के समय पंजाब में लोदी वंश जों ने अपनी स्थिति सुदृढ़ कर ली थी.     बहलोल लोदी अफगानिस्तान के ‘गिजलोई कबीले‘ की महत्वपूर्ण शाखा शहूखेल में पैदा हुआ …

लोदी वंश का इतिहास बहलोल लोदी से इब्राहिम लोदी(1451-1526 ई.) Lodi Dynasty in Hindi Read More »

सैय्यद वंश का पूरा इतिहास (1414-1451 ई.) Sayyid dynasty In Hindi

सैय्यद वंश का पूरा इतिहास (1414-1451 ई.) Sayyid dynasty In Hindi

सैय्यद वंश का पूरा इतिहास (1414-1451 ई.) Sayyid dynasty In Hindi–खिज्र खाँ द्वारा स्थापित सैय्यद वंश के काल में सबसे ज्यादा उत्तेजित राजनीतिक गतिविधियाँ देखी गयी, किन्तु वे सभी घटनाएँ बहुत घटिया स्तर की थी.     इसलिए सैय्यद वंश की शक्ति विद्रोहों को दबाने में ही नष्ट हो गई. इस वंश के काल में …

सैय्यद वंश का पूरा इतिहास (1414-1451 ई.) Sayyid dynasty In Hindi Read More »

तैमूर का भारत पर आक्रमण Timur invaded India

तैमूर का भारत पर आक्रमण Timur invaded India In Hindi

तैमूर का भारत पर आक्रमण Timur invaded India– तैमूर मंगोल नेता चंगेज खाँ का वंशज था. वह अत्यधिक महत्वाकांक्षी था तथा शीघ्र ही उसने सीरिया से ट्रांस-ऑक्सियाना तथा दक्षिणी रूस से सिन्ध तक के सारे क्षेत्र पर अधिकार कर लिया.     1397 ई. में उसने अपने पौत्र पीर मुहम्मद को भारत पर आक्रमण हेतु …

तैमूर का भारत पर आक्रमण Timur invaded India In Hindi Read More »

फिरोज शाह तुगलक के उत्तराधिकारी Firoz Shah Tughlaq's successor

फिरोज शाह तुगलक के उत्तराधिकारी Firoz Shah Tughlaq’s successor

फिरोज शाह तुगलक के उत्तराधिकारी Firoz Shah Tughlaq’s successor–फिरोजशाह तुगलक के सभी उत्तराधिकारी नाममात्र के ही शासक रहे. उसके तत्कालीन उत्तराधिकारी (उसका पौत्र) गयासुद्दीन तुगलकशाह के प्रशासन में विशेष रुचि न ली.     अतः अमीरों ने जफर खाँ के पुत्र अबुबक्र को 1389 ई. में सुल्तान बनाया. उसी के काल में शाहजादा मुहम्मद ने …

फिरोज शाह तुगलक के उत्तराधिकारी Firoz Shah Tughlaq’s successor Read More »

फिरोज शाह तुगलक की गृह-नीति Firuz Shah Tughlaq's Domestic policy

फिरोज शाह तुगलक की गृह-नीति Firuz Shah Tughlaq’s Domestic policy

फिरोज शाह तुगलक की गृह-नीति Firuz Shah Tughlaq‘s Domestic policy –फिरोजशाह तुगलक की गृह-नीति न्याय व्यवस्था के क्षेत्र में फिरोजशाह तुगलक ने अंग-भंग आदि कठोर व अमानवीय दण्डों को समाप्त कर दिया तथा राज्य के सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर अदालतें स्थापित करने हेतु काजी तथा मुफ्ती नियुक्त किए.     राजस्व व्यवस्था के अन्तर्गत सुल्तान …

फिरोज शाह तुगलक की गृह-नीति Firuz Shah Tughlaq’s Domestic policy Read More »

फिरोज शाह तुगलक (1351-88 ई.) Firuz Shah Tughlaq in Hindi

फिरोज शाह तुगलक (1351-88 ई.) Firuz Shah Tughlaq in Hindi

फिरोज शाह तुगलक (1351-88 ई.) Firuz Shah Tughlaq in Hindi-फिरोज तुगलक मुहम्मद तुगलक का चचेरा भाई था. उसका जन्म 1309 ई. में हुआ था. उसका पिता ‘रजब’ मुहम्मद तुगलक का सिपहसालार था तथा माता बीबी जैला अबूहर के राजपूत सरदार रणमल की पुत्री थी.   मुहम्मद तुगलक की मृत्यु पर थट्टा के स्थान पर ही …

फिरोज शाह तुगलक (1351-88 ई.) Firuz Shah Tughlaq in Hindi Read More »