महमूद गजनी (गज़नवी) के आक्रमणों के प्रभाव-मध्यकालीन भारत

महमूद गजनी (गज़नवी) के आक्रमणों के प्रभाव-मध्यकालीन भारत

  महमूद गजनी (गज़नवी) के आक्रमणों के प्रभाव इस प्रकार है- – भारत में मुस्लिम राज्य की स्थापना के लिए मार्ग प्रशस्त हुआ. – महमूद गजनवी के आक्रमणों का आर्थिक प्रभाव भारतीय शहरों तथा मन्दिरों पर अच्छा नहीं पड़ा. यहाँ से लूटी धनराशि से उसने एक विशाल तथा स्थाई सेना रखी, जिसने उसके साम्राज्य की मध्य …

महमूद गजनी (गज़नवी) के आक्रमणों के प्रभाव-मध्यकालीन भारत Read More »

महमूद गजनी (गज़नवी) के सत्रह आक्रमण और उद्देश्य

महमूद गजनी (गज़नवी) के सत्रह आक्रमण और उद्देश्य-मध्यकालीन भारत

महमूद गजनी (गज़नवी) के सत्रह आक्रमण और उद्देश्य-प्रसिद्ध इतिहासकार हबीब, जाफर तथा लेनपूल आदि का मत है कि महमूद गजनी (गज़नवी) का भारत पर आक्रमण करने का उद्देश्य ‘धन प्राप्ति’ था.     वस्तुतः आजकल महमूद गजनी के आक्रमणों का सर्वाधिक महत्वपूर्ण उद्देश्य ‘धन प्राप्ति’ ही माना जाता है. कई विद्वानों ने इस विषय में विभिन्न …

महमूद गजनी (गज़नवी) के सत्रह आक्रमण और उद्देश्य-मध्यकालीन भारत Read More »

तुर्को का आगमन (Advent of Turks) मध्यकालीन भारत (MEDIEVAL INDIA)

तुर्को का आगमन (Advent of Turks) मध्यकालीन भारत (MEDIEVAL INDIA)

तुर्को का आगमन (Advent of Turks)-नवीं शताब्दी के अन्त में ट्रांस-ऑक्सियाना, खुरासान तथा ईरान के कुछ भागों पर सामानी शासकों का राज्य था, जो मूलतः ईरानी थे. इन्हें अपनी उत्तरी और पूर्वी सीमाओं पर निरन्तर तुर्की से संघर्ष करना पड़ता था. तुर्क अधिकतर प्रकृति की शक्तियों की पूजा करते थे अतः मुसलमानों की दृष्टि में …

तुर्को का आगमन (Advent of Turks) मध्यकालीन भारत (MEDIEVAL INDIA) Read More »

Scroll to Top